Search
Close this search box.

BREAKING NEWS

“धर्मा प्रोडक्शन” की फ़िल्म के लिए मुंबई की सुप्रसिद्ध कास्टिंग एजेंसी ‘जोगी फ़िल्म कास्टिंग’ इन्दौर में करेगी ऑडिशनमुख्यमंत्री डॉ यादव ने दिखायी संवेदनशीलता, काफिला रुकवाकर पीड़िता की सुनी समस्यामप्र के सबसे बड़े बिना कर के विकास बजट पर मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव को मंत्री राकेश शुक्ला ने दिया धन्यवाद……मध्यप्रदेश का धार्मिक मुख्यालय उज्जैन होगाअनाथ आश्रम में हो रहे घोर अनियमितताओं और गंभीर आरोपों की जांच की मांग: कांग्रेस महासचिव राकेश सिंह यादव ने उठाए कई सवालGolden Temple में लगे खालिस्तानी नारे.इंदौर में नोटा के नंबर 1 आने पर कांग्रेस ने केक काटकर मनाया जश्न .सलमान खान पर हमले की नाकाम साजिश.कीर्तन कर पहुंचे वोट डालने.सेना के जवानों ने डाला वोट.

खालिस्तानी आतंकी पर NIA का एक्शन, पन्नू की पंजाब और चंडीगढ़ की प्रॉपर्टी को किया जब्त, यह प्रॉपर्टी अब सरकार की हुई

BREAKING NEWS
BREAKING NEWS

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने खालिस्तानी आतंकी गुरपतवंत सिंह पन्नू की पंजाब और चंडीगढ़ की प्रॉपर्टी को जब्त कर लिया है। पन्नू प्रतिबंधित संगठन सिख फॉर जस्टिस (SFJ) का मुखिया है और वह कनाडा सहित दूसरे देशों से लगातार भारत विरोधी बातें करता रहता है। हाल ही में उसने कनाडा-भारत विवाद में कनाडा में रहने वाले हिंदुओं को जान से मरने की धमकी दी थी।

खालिस्तानी आतंकी गुरपतवंत सिंह पन्नू
खालिस्तानी आतंकी गुरपतवंत सिंह पन्नू

पन्नू अब इन प्रॉपर्टी का मालिक नहीं रहा –

NIA की तरफ से अमृतसर के गांव खानकोट में पन्नू की 46 कनाल की प्रॉपर्टी जब्त की गई है। खानकोट पन्नू का पैतृक गांव है और यह एक एग्रीकल्चर लैंड है। वहीं चंडीगढ़ के सेक्टर 15 C में पन्नू का घर है। पहले 2020 में इन्हें अटैच किया गया था, जिसके बाद अब NIA ने इन्हें जब्त कर लिया। कानूनी तौर पर अब पन्नू इन प्रॉपर्टी का मालिक नहीं रहा, यह प्रॉपर्टी अब सरकार की हो गई हैं।

2020 में आतंकी घोषित हुआ था पन्नू –

भारत सरकार ने 2019 में आतंकी गतिविधियां चलाने के आरोप में गैरकानूनी गतिविधि रोकथाम अधिनियम यानी UAPA के तहत पन्नू के संगठन SFJ पर बैन लगाया था। गृह मंत्रालय ने अपनी अधिसूचना में कहा था कि, “सिखों के लिए रेफरेंडम की आड़ में SFJ पंजाब में अलगाववाद और उग्रवादी विचारधारा का समर्थन कर रहा है।”

इसके बाद पन्नू पर साल 2020 में अलगाववाद को बढ़ावा देने और पंजाबी सिख युवाओं को हथियार उठाने के लिए प्रोत्साहित करने का आरोप लगा। फिर केंद्र सरकार ने 1 जुलाई 2020 को पन्नू को UAPA के तहत आतंकी घोषित किया। 2020 में सरकार ने SFJ से जुड़े 40 से ज्यादा वेबपेज और यूट्यूब चैनलों को भी बैन कर दिया था।

MORE NEWS>>>शाजापुर में बस और कार की आमने-सामने टक्कर, हादसे में कार सवार दंपती की मौके पर हुई मौत, जांच में जुटी पुलिस

Leave a Comment