Search
Close this search box.

BREAKING NEWS

“धर्मा प्रोडक्शन” की फ़िल्म के लिए मुंबई की सुप्रसिद्ध कास्टिंग एजेंसी ‘जोगी फ़िल्म कास्टिंग’ इन्दौर में करेगी ऑडिशनमुख्यमंत्री डॉ यादव ने दिखायी संवेदनशीलता, काफिला रुकवाकर पीड़िता की सुनी समस्यामप्र के सबसे बड़े बिना कर के विकास बजट पर मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव को मंत्री राकेश शुक्ला ने दिया धन्यवाद……मध्यप्रदेश का धार्मिक मुख्यालय उज्जैन होगाअनाथ आश्रम में हो रहे घोर अनियमितताओं और गंभीर आरोपों की जांच की मांग: कांग्रेस महासचिव राकेश सिंह यादव ने उठाए कई सवालGolden Temple में लगे खालिस्तानी नारे.इंदौर में नोटा के नंबर 1 आने पर कांग्रेस ने केक काटकर मनाया जश्न .सलमान खान पर हमले की नाकाम साजिश.कीर्तन कर पहुंचे वोट डालने.सेना के जवानों ने डाला वोट.

क्या आप भी करना चाहते है मंगलवार के व्रत ? व्रत शुरू करने से पहले जान लें जरूरी नियम

Mangalwar Vrat Niyam 
Mangalwar Vrat Niyam 

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

आपने अपने आस-पास बहुत से लोगों को मंगलवार के दिन ब्रह्मचर्या का पालन और उपवास करते देखा होगा। क्या आप जानते हैं कि, इस दिन व्रत-उपासना कितनी मंगलकारी और फलदायी होती है। मंगलवार का व्रत मंगल ग्रह की समस्याओं को दूर करने के लिए रखा जाता है और इस व्रत से हनुमान जी की कृपा भी प्राप्त होती है।

Mangalwar Vrat Niyam 
Mangalwar Vrat Niyam

ज्योतिषविद के अनुसार, जिनकी कुंडली में मंगल नीच का होता है, ऐसे लोग उग्र, चिड़चिड़े या हिंसात्मक स्वभाव के हो जाते हैं। मंगल दोष के कारण वैवाहिक जीवन में भी समस्याएं आती हैं और शुभ व मांगलिक कार्यों में भी बाधाएं आने लगती हैं।

मंगलवार व्रत की विधि –

मंगलवार को प्रातःकाल स्नान करके लाल वस्त्र धारण करें। फिर हनुमान जी की उपासना करें और व्रत का संकल्प लें, फिर मंगल के मंत्र का जाप करें। इसके बाद संध्याकाल में हनुमान जी को सिंदूर और चमेली का तेल अर्पित करें और हनुमान जी की आरती उतारें। इस दिन खान-पान में केवल मीठी चीजों का सेवन करें और नमक से परहेज करें।

Mangalwar Vrat Niyam 
Mangalwar Vrat Niyam

मंगल के मंत्र क्या होंगे ?

ॐ अं अंगारकाय नमः

ॐ क्रां क्रीं क्रौं सः भौमाय नमः

मंगलवार व्रत की उद्यापन विधि –

साधक को 3, 5, 7, 11 या 21 मंगलवार व्रत करके उसका उद्यापन करना चाहिए। उद्यापन करते समय 7 नारियल हनुमान जी या देवी दुर्गा के मंदिर में अर्पित करें और पंचामृत चढ़ाकर सिंदूर का दान करें। साथ ही गरीबों या ब्रह्माणों को भोजन कराएं और मंदिर में लाल रंग की ध्वजा चढ़ाएं। उद्यापन के दिन रक्त चंदन की माला धारण करें, याद रखे की यह माला 7 दिन तक पहने रखना हैं।

Mangalwar Vrat Niyam 
Mangalwar Vrat Niyam

भूलवश भी न करें ये 5 गलतियां –

मंगलवार के व्रत में सबसे ज्‍यादा ध्‍यान पवित्रता का रखा जाता है। पूजा के समय मन को इधर-उधर न भटकने दें और अगर किसी मीठी वस्‍तु का दान करते हैं तो उसे स्‍वयं ग्रहण न करें। काले या सफेद वस्‍त्र पहनकर हनुमानजी की पूजा न करें, लाल कपड़े पहनना सबसे अच्‍छा होता है। व्रत रखने वाले व्‍यक्ति को दिनभर में केवल एक बार ही भोजन करना चाहिए।

MORE NEWS>>>भूकंप के झटको से दहला दिल्ली, 4.6 तीव्रता से आया भूकंप, फ़िलहाल कोई भी जनहानि की सुचना नहीं

Leave a Comment