Search
Close this search box.

BREAKING NEWS

“धर्मा प्रोडक्शन” की फ़िल्म के लिए मुंबई की सुप्रसिद्ध कास्टिंग एजेंसी ‘जोगी फ़िल्म कास्टिंग’ इन्दौर में करेगी ऑडिशनमुख्यमंत्री डॉ यादव ने दिखायी संवेदनशीलता, काफिला रुकवाकर पीड़िता की सुनी समस्यामप्र के सबसे बड़े बिना कर के विकास बजट पर मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव को मंत्री राकेश शुक्ला ने दिया धन्यवाद……मध्यप्रदेश का धार्मिक मुख्यालय उज्जैन होगाअनाथ आश्रम में हो रहे घोर अनियमितताओं और गंभीर आरोपों की जांच की मांग: कांग्रेस महासचिव राकेश सिंह यादव ने उठाए कई सवालGolden Temple में लगे खालिस्तानी नारे.इंदौर में नोटा के नंबर 1 आने पर कांग्रेस ने केक काटकर मनाया जश्न .सलमान खान पर हमले की नाकाम साजिश.कीर्तन कर पहुंचे वोट डालने.सेना के जवानों ने डाला वोट.

इजराइल में अब भी मौजूद हमास के लड़ाके, हिजबुल्लाह के ठिकानों पर हमले में हमास की इकलौती महिला नेता की मौत

Israel-Hamas war
Israel-Hamas war

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

इजराइल और हमास के बिच आज जंग का 13वां दिन है। इजराइल डिफेंस फोर्सेज के प्रवक्ता एडमिरल डेनियल हगारी ने कहा है कि – “हम इस बात की संभावना को खारिज नहीं कर सकते हैं कि, अभी भी हमास लड़ाके हमारे देश में मौजूद हैं। फ़िलहाल गाजा बॉर्डर के इलाकों को स्कैन करने का काम अभी पूरा नहीं हुआ है। हमने कल भी एक हमास लड़ाके को पकड़ा था जो वापस गाजा भाग रहा था।”

Israel-Hamas war
Israel-Hamas war

इस बीच ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक इजराइल से एकजुटता दिखाने के लिए तेल अवीव पहुंचे हैं। यहां वो इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू और राष्ट्रपति इसहाक हेर्जोग से मुलाकात करेंगे। इजराइल पहुंचते ही सुनक ने कहा – “इस देश ने आतंक का सामना किया है हम इनके साथ हैं।”

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक
ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक

हिजबुल्लाह के ठिकानों पर हमले –

इस बीच डिफेंस फोर्सेस ने बताया कि – “गाजा पर उनके हमले में हमास की एकलौती महिला नेता जमिला अल शांति मारी गई है। वो हमास के को-फाउंडर अब्देल अजीज अल रंतिसी की पत्नी थी। रंतिसी की दूसरे इंतिफादा के दौरान 2004 में इजराइल हमले में मौत गई थी। वहीँ, जमिला 2021 में ही हमास के पॉलिटिकल ब्यूरो की मेंबर बनी थी।

जमीला अल शांति को कहां मारा गया है, इजराइल की डिफेंस फोर्सेज ने इसकी जानकारी नहीं दी है।
जमीला अल शांति को कहां मारा गया है, इजराइल की डिफेंस फोर्सेज ने इसकी जानकारी नहीं दी है।

इजराइल ने देर रात लेबनान में हिजबुल्लाह के ठिकानों पर हमला किया है। जिसमे इजराइल की डिफेंस फोर्सेज का दावा है कि, इन हमलों में ईरान की रेवोल्यूशनरी गार्ड्स कॉर्प्स के पूर्व कमांडर कासिम सुलेमानी के स्मारक को निशाना बनाया गया था। दरअसल, कासिम सुलेमानी ईरान के मशहूर कमांडरों में से एक था। लेकिन 2020 में एक अमेरिकी अटैक में उसकी जान चली गई थी।

Israel-Hamas war
Israel-Hamas war

MORE NEWS>>>मेरठ की साबुन फैक्ट्री में ब्लास्ट, हादसे में 4 लोगों की दर्दनाक मौत, कई लोग घायल

Leave a Comment