Search
Close this search box.

BREAKING NEWS

Golden Temple में लगे खालिस्तानी नारे.इंदौर में नोटा के नंबर 1 आने पर कांग्रेस ने केक काटकर मनाया जश्न .सलमान खान पर हमले की नाकाम साजिश.कीर्तन कर पहुंचे वोट डालने.सेना के जवानों ने डाला वोट.दिल्ली में पानी की भारी किल्लत के चलते लोग बूंद-बूंद पानी के लिए तरस रहे हैं।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में 45 घंटे की ध्यान साधना शुरू की है।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि कांग्रेस पार्टी के अंदर औरंगजेब की आत्मा घुस चुकी है।‘ऑल आइज़ ऑन रफ़ा’: सोशल मीडिया पर ट्रेंडिंग का असली कारण!हार्दिक पांड्या और नताशा के तलाक की खबरें तेजी से आ रही हैं. एक रिपोर्ट के मुताबिक नताशा को पांड्या की 70 प्रतिशत प्रॉपर्टी मिलेगी.

नॉर्थ कोरिया ने अंडर-वॉटर न्यूक्लियर ड्रोन का टेस्ट किया, लॉन्च से पहले 59 घंटे पानी के अंदर रखा, इससे लाई जा सकती है दुनिया में ‘रेडियोएक्टिव सुनामी’

Highle
Highle

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

नॉर्थ कोरिया ने मिसाइलों के बाद अब अंडर वॉटर न्यूक्लियर ड्रोन का सफल परीक्षण किया है। इसकी जानकारी शुक्रवार को वहां की न्यूज एजेंसी KCNA ने दी हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक, नॉर्थ कोरिया की मिलिट्री ने एक ऐसा न्यूक्लियर ड्रोन तैयार किया है जो “रेडियो एक्टिव सुनामी” लाने के साथ-साथ दूसरे देशों के पोर्ट्स, यानी बंदरगाहों को आसानी से तबाह कर सकता है।
Highle
Highle
21 से 23 मार्च के बीच हुई इस न्यूक्लियर ड्रोन की टेस्टिंग को खुद नॉर्थ कोरिया के तानाशाह “किम जोंग उन” ने मॉनिटर किया। न्यूक्लियर ड्रोन को फायर करने से पहले उसे साउथ हमयोंग प्रोविंस के पास समुद्र में 260 से 490 फीट नीचे 59 घंटे और 12 मिनट तक रखा गया था। नॉर्थ कोरिया ने अपने नए अंडर वॉटर न्यूक्लियर ड्रोन को ‘हाइल’ नाम दिया है।
Highle
Highle
जिसका कोरियन भाषा में “सुनामी” मतलब होता है। इस रेडियोएक्टिव न्यूक्लियर ड्रोन को आसानी से किसी भी पोर्ट पर तैनात किया जा सकता है। अंडर वॉटर न्यूक्लियर ड्रोन को साल 2012 से तैयार किया जा रहा था। पिछले दो सालों में इससे जुड़े 50 टेस्ट किए जा चुके थे। इसकी टेस्टिंग के दौरान किम जोंग उन ने कहा कि, “ये ड्रोन अमेरिका और साउथ कोरिया को हमारी चेतावनी है। उन्हें ये पता होना चाहिए कि नॉर्थ कोरिया अपनी सुरक्षा के लिए हर तरह से तैयार है।”
Kim Jong Un
Kim Jong Un
आपको बता दें कि, नॉर्थ कोरिया ने अकेले मार्च के महीने में अब तक 6 मिसाइलों की टेस्टिंग की है। बुधवार को ही 4 क्रूज मिसाइलों का टेस्ट किया गया था। दरअसल, नॉर्थ कोरिया के इस महीने में लगातार इस तरह से मिसाइलों का टेस्ट करने के पीछे साउथ कोरिया और अमेरिका की ज्वाइंट मिलिट्री एक्सरसाइज है। जो 5 साल बाद हो रही है। नॉर्थ कोरिया इसे भड़काऊ हरकत बता रहा है।

Leave a Comment