Search
Close this search box.

BREAKING NEWS

जम्मू-कश्मीर में एवलांच का रेड अलर्ट, कई इलाको में बर्फबारी से माइनस 10 डिग्री पहुंचा तापमान, UP-बिहार में बारिश ने ठंड बढ़ाईकेजरीवाल के PS के घर ED की रेड, मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े मामले में AAP के 10 ठिकानों पर पहुंची टीमब्लू साड़ी में श्वेता लगीं काफी स्टनिंग, एक्ट्रेस के कातिलाना अवतार पर 1 लाख से भी ज्यादा यूजर्स ने किया लाइकभारत में 718 Snow Leopard, अकेले लद्दाख में रहते हैं 477 हिम तेंदुए, WII की नई रिपोर्ट जारीजब नारद मुनि ने पूछा भगवान विष्णु से एकादशी का महत्व, आखिर कैसे मिला ब्राह्मण की पत्नी को बैकुंठ का ऐश्वर्याषटतिला एकादशी आज, जानिए शुभ मुहूर्त, पूजन विधि, व्रत के नियम और उपायइंदौर में नाबालिगों का खुनी खेल, 6 हमलावरो ने किया दो दोस्तों पर चाकू से हमला, आरोपी मौके से फरारशिवपुरी में 8 साल की बच्ची को ट्रक ने कुचला, पुलिस ने ट्रक जब्त किया, ड्राइवर फरार10वीं बोर्ड एग्जाम के पहले ही पेपर वायरल, टेलीग्राम चैनल पर 350 में दिया जा रहा प्रश्न पत्र, कई लोगों पर कार्यवाहीचिली के जंगलों में आग VIDEO, 112 लोगों की मौत सैकड़ों लापता, राष्ट्रपति ने आपातकाल घोषित किया

दुश्मन के सामने भारतीय सेना का आकाश, पलक झपकते ही आएगी मौत, एक सेकेंड में सवा KM उड़ती है ये घातक मिसाइल

Akash Prime Missile
Akash Prime Missile

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

भारतीय सेना (Indian Army) के लिए रक्षा मंत्रालय नया मिसाइल सिस्टम और रडार्स खरीदने जा रहा है। आकाश प्राइम मिसाइल सिस्टम और स्वाति वेपन लोकेटिंग रडार्स के लिए 9100 करोड़ रुपए की राशि निर्धारित की गयी हैं। स्वाति वेपन लोकेटिंग रडार्स सीमा पार दुश्मन के हथियारों का पता करते हैं। जबकि आकाश मिसाइल भारत के घातक हथियारों में से एक है।
Akash Prime Missile
Akash Prime Missile
आकाश प्राइम मिसाइल की गति ही उसे सबसे घातक बनाती है। यह मिसाइल एक सेकेंड में सवा किलोमीटर की उड़ान भरने में सक्षम है। यानी इसकी गति 4321 किलोमीटर प्रतिघंटा है। दुश्मन के किसी भी तरह के हवाई टारगेट को आकाश मिसाइल ट्रैक करके उसे आसमान में ही ध्वस्त कर सकती है।
Akash Prime Missile
Akash Prime Missile
आकाश प्राइम मिसाइल में स्वदेशी एक्टिव RF सीकर लगा है जो टारगेट पहचानने की ताकत को बढ़ाता हैं। यानी पाकिस्तान और चीन की सीमा पर इसे तैनात करने से सीमाओं की सुरक्षा बढ़ जाएगी और इस मिसाइल की खासियत ये है कि, अधिक ऊंचाई पर जाने के बाद भी इसके तापमान को नियंत्रित कर सकते हैं।
Akash Prime Missile
Akash Prime Missile
आकाश प्राइम के ग्राउंड सिस्टम, रडार, EOTS और टेलिमेट्री स्टेशन, ट्रैजेक्टरी और फ्लाइट पैरामीटर्स को सुधारा गया हैं। यह जमीन से हवा में मार करने वाली मिसाइल है और साल 2011 से अब तक इसके पुराने वर्जन के 3500 मिसाइल बनाए जा चुके हैं।
Akash Prime Missile
Akash Prime Missile
आकाश प्राइम मिसाइल का वजन 720 किलोग्राम है और इसकी लंबाई 19 फीट, व्यास 1.16 फीट और इसके आगे के हिस्से में 60 किलोग्राम वजन का वॉरहेड लगाया जाता है। यह विस्फोटक हाई-एक्सप्लोसिव और फ्रैगमेंटेशन में इस्तेमाल होता है। फिलहाल इसके तीन वैरिएंट्स भारतीय सेना में मौजूद हैं।
Akash Prime Missile
Akash Prime Missile
पहला आकाश एमके – इसकी रेंज 30KM है। दूसरा आकाश एमके 2 – इसकी रेंज 40KM है और तीसरा आकाश-एनजी – इसकी रेंज 80KM है। आकाश मिसाइल 20 KM की ऊंचाई तक जाकर दुश्मन टारगेट को बर्बाद कर सकती है।
Akash Prime Missile
Akash Prime Missile
आकाश मिसाइल को T-72 या BMP चेसिस या टाटा मोटर्स के हैवी मोबिलिटी ट्रक्स पर बनाए गए मोबाइल लॉन्च सिस्टम से दागा जा सकता है। इस मिसाइल के मोबाइल लॉन्च सिस्टम के लिए गाड़िया टाटा मोटर्स और BEML-Tatra कंपनियां बनाती हैं।
Akash Prime Missile
Akash Prime Missile
आकाश मिसाइल के पुराने संस्करण को चीन से हुए सीमा विवाद के दौरान लद्दाख में भी तैनात किया गया था। इसके अलावा भारतीय वायुसेना ने आकाश मिसाइलों को ग्वालियर, जलपाईगुड़ी, तेजपुर, जोरहाट और पुणे बेस पर भी तैनात कर रखा है। जो दिन-रात सीमा की सुरक्षा किया करती हैं।
Akash Prime Missile
Akash Prime Missile
स्वदेशी आकाश मिसाइल रूस के 2K12 Kub जैसी ताकतवर मिसाइल है। इसमें रैमजेट-रॉकेट प्रोपल्शन सिस्टम है, जो इसे शानदार गति दिलाता है और इसके आकाश-एनजी वर्जन को भारतीय वायुसेना के लिए तैयार किया जा रहा है। फिलहाल वायुसेना के पास इस मिसाइल के 8 स्क्वाड्रन्स होने की जानकारी है। जबकि, थल सेना के पास 2 रेजिमेंट की बात कही जा रही है। साथ ही दो और रेजिमेंट खरीदने की तैयारी है।

Leave a Comment