Search
Close this search box.

BREAKING NEWS

जम्मू-कश्मीर में एवलांच का रेड अलर्ट, कई इलाको में बर्फबारी से माइनस 10 डिग्री पहुंचा तापमान, UP-बिहार में बारिश ने ठंड बढ़ाईकेजरीवाल के PS के घर ED की रेड, मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े मामले में AAP के 10 ठिकानों पर पहुंची टीमब्लू साड़ी में श्वेता लगीं काफी स्टनिंग, एक्ट्रेस के कातिलाना अवतार पर 1 लाख से भी ज्यादा यूजर्स ने किया लाइकभारत में 718 Snow Leopard, अकेले लद्दाख में रहते हैं 477 हिम तेंदुए, WII की नई रिपोर्ट जारीजब नारद मुनि ने पूछा भगवान विष्णु से एकादशी का महत्व, आखिर कैसे मिला ब्राह्मण की पत्नी को बैकुंठ का ऐश्वर्याषटतिला एकादशी आज, जानिए शुभ मुहूर्त, पूजन विधि, व्रत के नियम और उपायइंदौर में नाबालिगों का खुनी खेल, 6 हमलावरो ने किया दो दोस्तों पर चाकू से हमला, आरोपी मौके से फरारशिवपुरी में 8 साल की बच्ची को ट्रक ने कुचला, पुलिस ने ट्रक जब्त किया, ड्राइवर फरार10वीं बोर्ड एग्जाम के पहले ही पेपर वायरल, टेलीग्राम चैनल पर 350 में दिया जा रहा प्रश्न पत्र, कई लोगों पर कार्यवाहीचिली के जंगलों में आग VIDEO, 112 लोगों की मौत सैकड़ों लापता, राष्ट्रपति ने आपातकाल घोषित किया

इंडियन नेवी के रोमियो को मिलेगी Hellfire और Mark-54 की असीम ताकत, जल्द ही हो सकती है 2466 करोड़ रुपए की बड़ी डील

MH 60R Multi-Role Helicopter
MH 60R Multi-Role Helicopter

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

भारत ने अमेरिका से 24 MH 60R Multi-Role Helicopter की डील की थी। इनमें से 2 आ चुके हैं और नौसेना ने इनकी तैनाती भी कर दी है। अब तैयारी चल रही है इन हेलिकॉप्टर्स पर लगने वाले हथियारों के खरीद की। भारत सरकार अब इन हेलिकॉप्टर्स पर Hellfire मिसाइल और Mark-54 Anti-Submarine Torpedos लगाना चाहती है। इसके लिए करीब 2466 करोड़ रुपए की डील हो सकती है।
MH 60R Multi-Role Helicopter
MH 60R Multi-Role Helicopter
रोमियो हेलिकॉप्टर का असली नाम है MH 60R Multi-Role Helicopter इसके नाम में लगा R ही रोमियो का शॉर्टफॉर्म है। अभी 22 हेलिकॉप्टर और आएंगे। इनके आने में करीब 3 साल का समय लगेगा। इस हेलिकॉप्टर को INS Vikrant पर भी तैनात किया जाएगा। इसके पांच वैरिएंट भारीतय नौसेना में मौजूद हैं। इनका उपयोग निगरानी, जासूसी, VIP मूवमेंट, हमला, सबमरीन खोजना और उसे बर्बाद करने में काम आ सकता है।
MH 60R Multi-Role Helicopter
MH 60R Multi-Role Helicopter
रोमियो हेलिकॉप्टर को उड़ाने के लिए 3 से 4 क्रू मेंबर्स की जरूरत होती है और इनके अलावा इसमें 5 लोग बैठ सकते हैं। इसकी लंबाई 64.8 फीट है. ऊंचाई 17.23 फीट है। यह एक बार में 830 KM तक जा सकता है और अधिकतम 12 हजार फीट की ऊंचाई तक उड़ सकता है। मैक्सिमम स्पीड 330 KM है, इस पर 2 मार्क 46 टॉरपीडो या MK 50 या MK 54s टॉरपीडो लगाए जा सकते हैं। इसके अलावा 4 से 8 AGM-114 Hellfire Missile लगाए जा सकते हैं।
Mark-54 Anti-Submarine Torpedo
Mark-54 Anti-Submarine Torpedo
अब जानिए Hellfire मिसाइल के बारे में –
Hellfire मिसाइल को ड्रोन, फाइटर जेट या हेलिकॉप्टर से दाग सकते हैं। बारूद की मात्रा बेहद कम होती है। इसमें तेज धार वाले धातु के ब्लेड्स होते हैं और इस मिसाइल को “निंजा बॉम्बऔर फ्लाइंग गिंसू” भी कहते हैं। यह 7 अलग-अलग तरह के विमानों, पेट्रोल बोट या हमवी से भी लॉन्च किये जा सकते हैं।
Mark-54 Anti-Submarine Torpedo
Mark-54 Anti-Submarine Torpedo
हेलफायर मिसाइल दागो और भूल जाओ तकनीक पर काम करती है। इस मिसाइल में 5 तरीके के वॉरहेड यानी हथियार लगाए जा सकते हैं। एंटी-टैंक हाई एक्सप्लोसिव, शेप्ड चार्ज, टैंडम एंटी-टेरर, मेटल ऑगमेंटेड चार्ज और ब्लास्ट फ्रैगमेंटेशन। इसकी रेंज 499 मीटर से लेकर 11.01 KM है और इसकी अधिकतम गति 1601 किलोमीटर प्रतिघंटा है।
हेलफायर मिसाइल की नाक पर कैमरे, सेंसर्स लगे होते हैं। जो विस्फोट से पहले तक रिकॉर्डिंग करते रहते हैं और साथ ही विस्फोट से पहले टारगेट की सही स्थिति का पता लगाते रहते हैं। अमेरिका ने इसी मिसाइल का उपयोग करके साल 2000 में USS कोले बमबारी में मुख्य आरोपी जमाल अहम मोहम्मद अल बदावी और अलकायदा के प्रमुख आतंकी अबु खार अल-मसरी को मारा था।
Mark-54 Anti-Submarine Torpedo
Mark-54 Anti-Submarine Torpedo
इस मिसाइल की सबसे बड़ी खासियत ये हैं कि, मजबूत से मजबूत बंकर, बख्तरबंद गाड़ियों, टैंक और काफी मोटी कॉन्क्रीट की दीवार को फोड़कर विस्फोट करने में सक्षम होती है। आमतौर पर इसके वैरिएंट्स का वजन 45 से 49 किलोग्राम होता है। यह लेजर और राडार सीकर टेक्नोलॉजी पर उड़ती है। यानी आप इसे राडार के माध्यम से लेजर के जरिए दोनों तरीके से ऑपरेट करके टारगेट पर निशाना लगा सकते हैं।
Mark-54 Anti-Submarine Torpedo
Mark-54 Anti-Submarine Torpedo
अब जानिए मार्क-54 एंटी-सबमरीन टॉरपीडो के बारे में –
276 किलो वजनी टॉरपीडो की लंबाई 2.72 मीटर होती है। इसका वॉरहेड पॉलीमर बॉन्डेड एक्सप्लोसिव होता है, जो पनडुब्बी से टकराने पर उसके चीथड़े उड़ा देता है। इस टॉरपीडो की रेंज 9.1 किलोमीटर होती है और पानी के अंदर इसकी अधिकतम गति 74.1 किलोमीटर प्रतिघंटा होती है।
Mark-54 Anti-Submarine Torpedo
Mark-54 Anti-Submarine Torpedo
यह अमेरिका की लाइटवेट हाइब्रिड टॉरपीडो है और इसका इस्तेमाल अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, मेक्सिको, न्यूजीलैंड, नीदरलैंड्स और इंग्लैंड भी साल 2004 से लगातार कर रहे हैं। हेलिकॉप्टर से छोड़ने के बाद यह दुश्मन की पनडुब्बी को खत्म करके ही दम लेता है।
MH 60R Multi-Role Helicopter
MH 60R Multi-Role Helicopter

Leave a Comment