Search
Close this search box.

BREAKING NEWS

प्लास्टिक सर्जरी की अफवाहों पर राजकुमार राव ने दिया जवाब.खुले हुए नलकूप/बोरवेल की सूचना देने वाले को मिलेगी 10 हजार रूपये की प्रोत्साहन राशिरोहित ने छह टीमों से ज्यादा छक्के उड़ाए, पोलार्ड को भी पीछे छोड़ापतंजलि को झटका : योग से कमाए पैसों पर देना होगा टैक्सपुलिस से पंगा लेना मत, नहीं तो यहीं चौराहे पर पटक-पटक कर मारूंगाआज पहले चरण का मतदान,कई दिग्गजों की साख दांव परजम्मू-कश्मीर में एवलांच का रेड अलर्ट, कई इलाको में बर्फबारी से माइनस 10 डिग्री पहुंचा तापमान, UP-बिहार में बारिश ने ठंड बढ़ाईकेजरीवाल के PS के घर ED की रेड, मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े मामले में AAP के 10 ठिकानों पर पहुंची टीमब्लू साड़ी में श्वेता लगीं काफी स्टनिंग, एक्ट्रेस के कातिलाना अवतार पर 1 लाख से भी ज्यादा यूजर्स ने किया लाइकभारत में 718 Snow Leopard, अकेले लद्दाख में रहते हैं 477 हिम तेंदुए, WII की नई रिपोर्ट जारी

बिपरजॉय तूफान से मुंबई में हाईअलर्ट जारी, 150 KMPH की रफ्तार से गुजरात की ओर बढ़ रहा तूफ़ान

Cyclone Biporjoy
Cyclone Biporjoy

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

तूफान बिपरजॉय अब और भी ज्यादा खतरनाक हो रहा है। पहले यह पाकिस्तान की ओर जा रहा था, लेकिन अब इसने अपना रास्ता बदल गुजरात की ओर बढ़ना शुरू कर दिया है। तूफान पोरबंदर से फिलहाल 400 किलोमीटर दूर है और इसके 14-15 जून को गुजरात के तटीय इलाकों से टकराने की आशंका है। इस दौरान 150 KMPH की रफ्तार से हवाएं चलने का अनुमान लगाया जा रहा है।
Bipperjoy Storm
Cyclone Biporjoy
तूफान के रूट बदलने के बाद SDRF की टीम ने गुजरात के तटीय इलाकों से लोगों को हटाने का काम शुरू कर दिया है। मौसम विभाग ने सौराष्ट्र, कच्छ समेत 10 जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी कर मुंबई को भी हाईअलर्ट पर रखा है। वहीँ, 16 जून को राजस्थान में आंधी-बारिश होने की आशंका है।
इस खतरनाक तूफान की स्थिति को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी एक इमरजेंसी मीटिंग कर रहे हैं। इसमें गृह मंत्रालय, NDRF और सेना के अधिकारी मौजूद हैं। केंद्रीय मंत्री अमित शाह 13 जून को दिल्ली में राज्यों और यूनियन टेरिटरीज के आपदा प्रबंधन विभाग के मंत्रियों के साथ बैठक करेंगे।
Bipperjoy Storm
Cyclone Biporjoy
तूफान से जुड़े अपडेट्स –
इस तूफान को ‘बिपरजॉय’ नाम बांग्लादेश ने दिया है। इसका मतलब ‘विपत्ति’ या ‘आपदा’ होता है।
तूफान के असर को देखते हुए मौसम विभाग ने गुजरात के कच्छ, राजकोट, भावनगर, पोरबंदर, गिर-सोमनाथ, द्वारका, जखौ, जाफराबाद में अलर्ट जारी कर दिया गया है।
वलसाड में सर्तकता के तौर पर मरीन कमांडो की तैनाती की गई है। वहीँ, कच्छ जिले में धारा 144 लागु कर लोगो को अपने घरो में ही रहने की सलाह दी गयी हैं।
तूफान के चलते गुजरात में अगले चार दिन तक आंधी चलेगी और सबसे ज्यादा असर सौराष्ट्र-कच्छ इलाके में होगा। इसके चलते पेड़ों के टूटने, उखड़ने के साथ बिजली और टेलीफोन लाइनों के खंभों का नुकसान पहुंचने की संभावना है।
BJP ने केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार के नौ वर्ष पर आयोजित होने वाली सभाओं को रद्द कर आगामी 15 जून तक की सभाएं भी रद्द की हैं।
MORE NEWS>>>इंदौर कलेक्टोरेट के टाइपिस्ट ने की आत्महत्या, पत्नी-सास और साले पर लगाए प्रताड़ना के आरोप, अस्पताल में तोड़ दम

Leave a Comment