Search
Close this search box.

BREAKING NEWS

जम्मू-कश्मीर में एवलांच का रेड अलर्ट, कई इलाको में बर्फबारी से माइनस 10 डिग्री पहुंचा तापमान, UP-बिहार में बारिश ने ठंड बढ़ाईकेजरीवाल के PS के घर ED की रेड, मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े मामले में AAP के 10 ठिकानों पर पहुंची टीमब्लू साड़ी में श्वेता लगीं काफी स्टनिंग, एक्ट्रेस के कातिलाना अवतार पर 1 लाख से भी ज्यादा यूजर्स ने किया लाइकभारत में 718 Snow Leopard, अकेले लद्दाख में रहते हैं 477 हिम तेंदुए, WII की नई रिपोर्ट जारीजब नारद मुनि ने पूछा भगवान विष्णु से एकादशी का महत्व, आखिर कैसे मिला ब्राह्मण की पत्नी को बैकुंठ का ऐश्वर्याषटतिला एकादशी आज, जानिए शुभ मुहूर्त, पूजन विधि, व्रत के नियम और उपायइंदौर में नाबालिगों का खुनी खेल, 6 हमलावरो ने किया दो दोस्तों पर चाकू से हमला, आरोपी मौके से फरारशिवपुरी में 8 साल की बच्ची को ट्रक ने कुचला, पुलिस ने ट्रक जब्त किया, ड्राइवर फरार10वीं बोर्ड एग्जाम के पहले ही पेपर वायरल, टेलीग्राम चैनल पर 350 में दिया जा रहा प्रश्न पत्र, कई लोगों पर कार्यवाहीचिली के जंगलों में आग VIDEO, 112 लोगों की मौत सैकड़ों लापता, राष्ट्रपति ने आपातकाल घोषित किया

इंदौर में तीन बच्चों के पिता ने किया सुसाइड, धर्म बदल अलग फ्लैट में रहने का दबाव बना रही थी प्रेमिका, इसलिए लगाई फांसी

Rajasthan News
Rajasthan News

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

इंदौर के आजाद नगर में रहने वाले एक युवक ने फांसी लगाकर अपनी जान दे दी। युवक के इस आत्मघाती कदम के पीछे जबरन धर्म परिवर्तन के लिए दबाव बनाने की बात सामने आ रही है। युवक अन्य धर्म की महिला के साथ लिव इन में रह रहा था और महिला युवक पर अलग घर लेने के साथ अपना धर्म अपनाने के लिए दबाव बना रही थी।
Raja Panwar(35)
Raja Panwar(35)
आजाद नगर पुलिस के मुताबिक, इलाके में रहने वाले राजा (35) पुत्र रमेश पंवार ने अपने घर में फांसी लगाकर जान दे दी। रात में उसने माँ इंदुबाई को अस्पताल भेजा और फिर खुद फंदे पर झूल गया। रात में जब उसकी माँ घर पहुंची तो उसने राजा को फंदे पर लटके देखा और फ़ौरन आसपास के लोगों से मदद मांगी। जिसके बाद रिश्तेदारो राजा को फंदे से उतारकर अस्पताल ले गए। जहाँ डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।
दो साल से चल रहा है प्रेम प्रसंग –
मृतक राजाके छोटे भाई गोलू ने आरोप लगाते हुए कहा कि, महिला रानी फिरदौस नगर पानी की टंकी के पास रहती है। अन्य धर्म की होने के बावजूद भैया और रानी साथ में रहते थे और रानी की हरकतें भी ठीक नहीं थी। इस कारण से कई बार परिवार ने उसे रोका लेकिन वह नहीं माना। तीन महीने से रानी उससे काफी विवाद करने लगी थी।
रानी ने कहा था कि, परिवार से रुपए लो और एक मकान लेकर अलग रहेंगे। तुम मेरा धर्म भी अपना लेना। इसके बाद से राजा परेशान रहने लगा था। बुधवार को भी रानी उसे अपने साथ लेकर गई थी और उसने कहा था कि, मुझे अलग से फ्लैट दिलाओ। उसी रात को परेशान होकर राजा माँ के पास पहुंचा ओर तबीयत खराब होने पर एक फल काटकर उसे दिया। उसने माँ से कहा कि वह डॉक्टर को दिखा दे। माँ इंदुबाई जब नजदीक के क्लीनिक गई तो राजा ने मौका पाकर यह कदम उठा लिया।
पहली पत्नी और बच्चों से अलग रहता था –
मृतक राजा पेशे से ड्राइवर था और उसकी पहली पत्नी अंजना से उसके तीन बच्चे हैं। बताया जाता है कि, रानी से राजा का संपर्क हुआ। जिसके बाद उसके कहने पर पत्नी अंजना से ज्यादा विवाद होने लगा। इसके बाद राजा ने की पत्नी अपने तीनों बच्चों को लेकर अलग रहने चली गई। इसके बाद भी राजा उनसे अलग से मिलने जाता था। कुछ दिन पहले राजा ने अपनी पत्नी से भी मकान लेने के लिये रुपए में मदद करने की बात कही थी।
MORE NEWS>>>जबलपुर में दिनदहाड़े वारदात, लड़की को छेड़ रहे 5 बदमाशों ने राहगीरों पर चाकू-तलवार से हमला किया, 3 लोग घायल

Leave a Comment