Search
Close this search box.

BREAKING NEWS

जम्मू-कश्मीर में एवलांच का रेड अलर्ट, कई इलाको में बर्फबारी से माइनस 10 डिग्री पहुंचा तापमान, UP-बिहार में बारिश ने ठंड बढ़ाईकेजरीवाल के PS के घर ED की रेड, मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े मामले में AAP के 10 ठिकानों पर पहुंची टीमब्लू साड़ी में श्वेता लगीं काफी स्टनिंग, एक्ट्रेस के कातिलाना अवतार पर 1 लाख से भी ज्यादा यूजर्स ने किया लाइकभारत में 718 Snow Leopard, अकेले लद्दाख में रहते हैं 477 हिम तेंदुए, WII की नई रिपोर्ट जारीजब नारद मुनि ने पूछा भगवान विष्णु से एकादशी का महत्व, आखिर कैसे मिला ब्राह्मण की पत्नी को बैकुंठ का ऐश्वर्याषटतिला एकादशी आज, जानिए शुभ मुहूर्त, पूजन विधि, व्रत के नियम और उपायइंदौर में नाबालिगों का खुनी खेल, 6 हमलावरो ने किया दो दोस्तों पर चाकू से हमला, आरोपी मौके से फरारशिवपुरी में 8 साल की बच्ची को ट्रक ने कुचला, पुलिस ने ट्रक जब्त किया, ड्राइवर फरार10वीं बोर्ड एग्जाम के पहले ही पेपर वायरल, टेलीग्राम चैनल पर 350 में दिया जा रहा प्रश्न पत्र, कई लोगों पर कार्यवाहीचिली के जंगलों में आग VIDEO, 112 लोगों की मौत सैकड़ों लापता, राष्ट्रपति ने आपातकाल घोषित किया

आज शाम गुजरात से टकराएगा तूफान बिपरजॉय, कच्छ से 180 किमी दूर, खतरे वाले इलाकों से 75 हजार लोगों को निकाला

Cyclone Biporjoy
Cyclone Biporjoy

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

गुजरात के तटीय इलाकों की तरफ तेज़ी से बढ़ रहा चक्रवात बिपरजॉय बेहद ही खतरनाक हो चुका है। मौसम विभाग के अनुसार, यह तूफ़ान गुरुवार शाम 4 से रात 8 बजे के बीच कच्छ के जखौ पोर्ट पहुंचेगा और इस दौरान यहाँ के हालात बेहद खराब हो सकते हैं।
Cyclone Biporjoy
Cyclone Biporjoy
मौसम विभाग के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्रा ने बताया कि, चक्रवात बिपरजॉय सौराष्ट्र, कच्छ की तरफ बड़ी ही तेज़ी से बढ़ रहा है। यह जखौ से करीब 180 किमी की दूरी पर है और हवाओं की रफ्तार 125 – 135 किमी प्रति घंटे रफ्तार से चल रही है। यह अति गंभीर चक्रवाती तूफान है। इसकी वजह से पेड़, छोटे मकान, मिट्टी और टिन के घरों को नुकसान हो सकता है। कच्छ और सौराष्ट्र के लिए रेड अलर्ट जारी कर गुजरात के प्रभावित 8 जिलों से 75 हजार से ज्यादा लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा दिया गया है।
मौसम विभाग के अनुसार, तूफान दक्षिणी अरब सागर में पैदा होने के बाद गुजरात तट के करीब पहुंचने तक कई बार रास्ता बदलता रहा हैं। इससे यह कमजोर हुआ है, लेकिन कई बार खतरनाक भी हुआ है। गुजरात और महाराष्ट्र समेत कर्नाटक, लक्षद्वीप, केरल, असम, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय और पश्चिमी राजस्थान में भी इसका असर देखा जा रहा है। यहां के कई इलाकों में तेज हवाएं चलने के साथ बारिश हो रही है।
Cyclone Biporjoy
Cyclone Biporjoy
तूफान से जुड़े अपडेट्स –
गुजरात के साथ महाराष्ट्र और कर्नाटक में भी इसका असर जारी हैं। इन इलाकों में NDRF की 33 टीमें तैनात की गई हैं। कोस्ट गार्ड, आर्मी और नेवी की रेस्क्यू और रिलीफ टीमों को स्टैंडबाय पर रखा गया है। इन इलाकों में चक्रवात के गुजर जाने के बाद यातायात और बिजली व्यवस्था बहाल करने के लिए करीब 600 टीमें बनाई गई हैं।
गुजरात के 8 तटीय जिलों से 75 हजार लोगों को अस्थायी शिविर में ले जाया गया है। अकेले कच्छ जिले से ही 34 हजार से ज्यादा लोगों को निकाला गया हैं। इसके बाद जामनगर में 10 हजार, मोरबी में 9,243, राजकोट में 6,089, देवभूमि द्वारका में 5,035, जूनागढ़ में 4,604, पोरबंदर में 3,469 और गिर सोमनाथ जिले में से करीब 1,605 लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचा दिया गया है।
वहीँ, गुजरात के कच्छ जिले में धारा 144 लगा दी गई है। पश्चिम रेलवे ने चक्रवात संभावित क्षेत्रों में 67 ट्रेन रद्द की हैं और 25 के रूट बदले हैं। उधर, पाकिस्तान में भी चक्रवात बिपरजॉय को लेकर अलर्ट जारी किया गया है। वहां के मौसम विभाग के अनुसार, आज सिंध के केटी बंदर से चक्रवात टकराएगा।
MORE NEWS>>>वृषभ राशि में अस्त होने जा रहे बुध देव, इन राशियों की बढ़ सकती हैं मुश्किलें होगी धन हानि

Leave a Comment