Search
Close this search box.

BREAKING NEWS

जम्मू-कश्मीर में एवलांच का रेड अलर्ट, कई इलाको में बर्फबारी से माइनस 10 डिग्री पहुंचा तापमान, UP-बिहार में बारिश ने ठंड बढ़ाईकेजरीवाल के PS के घर ED की रेड, मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े मामले में AAP के 10 ठिकानों पर पहुंची टीमब्लू साड़ी में श्वेता लगीं काफी स्टनिंग, एक्ट्रेस के कातिलाना अवतार पर 1 लाख से भी ज्यादा यूजर्स ने किया लाइकभारत में 718 Snow Leopard, अकेले लद्दाख में रहते हैं 477 हिम तेंदुए, WII की नई रिपोर्ट जारीजब नारद मुनि ने पूछा भगवान विष्णु से एकादशी का महत्व, आखिर कैसे मिला ब्राह्मण की पत्नी को बैकुंठ का ऐश्वर्याषटतिला एकादशी आज, जानिए शुभ मुहूर्त, पूजन विधि, व्रत के नियम और उपायइंदौर में नाबालिगों का खुनी खेल, 6 हमलावरो ने किया दो दोस्तों पर चाकू से हमला, आरोपी मौके से फरारशिवपुरी में 8 साल की बच्ची को ट्रक ने कुचला, पुलिस ने ट्रक जब्त किया, ड्राइवर फरार10वीं बोर्ड एग्जाम के पहले ही पेपर वायरल, टेलीग्राम चैनल पर 350 में दिया जा रहा प्रश्न पत्र, कई लोगों पर कार्यवाहीचिली के जंगलों में आग VIDEO, 112 लोगों की मौत सैकड़ों लापता, राष्ट्रपति ने आपातकाल घोषित किया

इंदौर में प्लंबर की संदिग्ध हालत में मौत, पेट दर्द था डॉक्टरों की लापरवाही से नहीं मिला समय पर उपचार

Haryana News 
Haryana News 

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

इंदौर के हीरानगर इलाके में रहने वाले एक प्लम्बर की रविवार देर रात संदिग्ध परिस्थितयों में मौत हो गई। परिवार ने आरोप लगाया कि, “अस्पताल ले जाने के बाद उन्हें 5 घंटे उपचार नहीं मिला। इस वजह से युवक की जान चली गई।” इधर, डॉक्टरों ने जहर से मौत होने की बात लिखी है।

Vishal Kadam (30)
Vishal Kadam (30)

पुलिस के मुताबिक, विशाल (30) पुत्र स्व. हंसराज कदम निवासी गौरी नगर को उसकी बहन काजल रविवार शाम करीब 7 बजे एमवाय अस्पताल लेकर पहुंची। जहाँ रात करीब 1 बजे उसकी मौत हो गई। मृतक की बहन काजल ने आरोप लगाया हैं कि, भाई को इमरजेंसी वार्ड में लाए तो यहां मेडिसिन विभाग की डॉक्टर ने यह कहते हुए देखने से इंकार कर दिया कि – “अभी और मरीज हैं, पहले उनका उपचार किया जाएगा।”

अस्पताल लाने के 2 घंटे बाद करीब 9 बजे एक डॉक्टर ने चेकअप किया और चले गए। जिसके बाद रात करीब 11.30 बजे रूम में शिफ्ट कर उपचार शुरू किया और डेढ़ घंटे बाद ही भाई की मौत हो गई। एमवाय अस्पताल में भाई को समय पर उपचार नहीं मिला। यदि यहां समय पर उपचार मिल जाता तो भाई की जान बच जाती। इधर, डॉक्टरों ने प्राथमिक सूचना में शरीर में जहर होने की बात कही है। फ़िलहाल हीरानगर पुलिस अब युवक पोस्टमार्टम कराएगी। ताकि मौत के सही कारणों का पता लगाया जा सके।

MORE NEWS>>>वंदे भारत ट्रेन की बोगी में लगी आग, बीना रेलवे स्टेशन से पहले हुआ हादसा, यात्रा कर रहे कई VIP सहित सभी यात्री सेफ

Leave a Comment