Search
Close this search box.

BREAKING NEWS

प्लास्टिक सर्जरी की अफवाहों पर राजकुमार राव ने दिया जवाब.खुले हुए नलकूप/बोरवेल की सूचना देने वाले को मिलेगी 10 हजार रूपये की प्रोत्साहन राशिरोहित ने छह टीमों से ज्यादा छक्के उड़ाए, पोलार्ड को भी पीछे छोड़ापतंजलि को झटका : योग से कमाए पैसों पर देना होगा टैक्सपुलिस से पंगा लेना मत, नहीं तो यहीं चौराहे पर पटक-पटक कर मारूंगाआज पहले चरण का मतदान,कई दिग्गजों की साख दांव परजम्मू-कश्मीर में एवलांच का रेड अलर्ट, कई इलाको में बर्फबारी से माइनस 10 डिग्री पहुंचा तापमान, UP-बिहार में बारिश ने ठंड बढ़ाईकेजरीवाल के PS के घर ED की रेड, मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े मामले में AAP के 10 ठिकानों पर पहुंची टीमब्लू साड़ी में श्वेता लगीं काफी स्टनिंग, एक्ट्रेस के कातिलाना अवतार पर 1 लाख से भी ज्यादा यूजर्स ने किया लाइकभारत में 718 Snow Leopard, अकेले लद्दाख में रहते हैं 477 हिम तेंदुए, WII की नई रिपोर्ट जारी

IAS रानू साहू ED की हिरासत में, आज रायपुर कोर्ट में किया गया पेश, 12 अफसरों की टीम ने कल घर पर मारा था छापा

Cg News 
Cg News 

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

छत्तीसगढ़ की IAS अफसर रानू साहू को ED की टीम ने हिरासत में लेकर आज रायपुर कोर्ट में पेश किया है। आपको बता दें कि, कल यानी शुक्रवार को 12 अफसरों से सजी टीम ने उनके देवेंद्र नगर, ऑफिसर कॉलोनी स्थित मकान पर छापा मारा था। बहरहाल कार्रवाई में क्या जानकारी सामने आई है इसका अपडेट अभी तक अफसरों ने नहीं दिया है।

IAS Ranu Sahu
IAS Ranu Sahu

शुक्रवार को ED ने रायपुर, बिलासपुर, कोरबा में कई कारोबारियों और अफसरों के घर दबिश दी थी। रायपुर में रामदास अग्रवाल के जोरा स्थित अनुपम नगर के घर में भी टीम पहुंची थी। आपको बता दें कि, रामदास अग्रवाल कोल और इस्पात कारोबार से जुड़े हुए हैं और पिछले दिनों ही उनके यहाँ IT की रेड पड़ी थी। रायपुर और रायगढ़ में इनका कारोबार है।

फिलहाल ED की कार्रवाई का अपडेट सामने नहीं आया है। इसके अलावा बिलासपुर में एक बड़े ठेकेदार और कारोबारी की घर कार्रवाई की गई हैं, वहीँ कोरबा में निगम कमिश्ननर प्रभाकर पांडेय के घर पर सुबह 5 बजे से 5 सदस्यीय टीम छानबीन में लगी हुई थी। ED की टीम के साथ CRPF के जवान भी पहुंचे जो घर के अंदर और बाहर सुरक्षा की दृष्टी से तैनात थे।

Cg News 
Cg News

यह कार्रवाई कोल स्कैम मामले के साथ नान और मार्कफेड में PDS घोटाले के सिलसिले में चल रही है। छत्तीसगढ़ में ED की ओर से दर्ज 2,000 करोड़ रुपए की कथित आबकारी गड़बड़ी के मामले में मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट ने रोक लगा दी थी। वहीँ, अनुसूचित अपराध के अभाव में कोर्ट ने अंतरिम राहत देते हुए प्रवर्तन निदेशालय (ED) की जांच पर भी रोक लगाई थी।

MORE NEWS>>>इंदौर में युवक ने की आत्महत्या, दो पुलिस थानों में रह चुका है निजी ड्राइवर, सुसाइड का कारण स्पष्ट नहीं

Leave a Comment