Search
Close this search box.

BREAKING NEWS

जम्मू-कश्मीर में एवलांच का रेड अलर्ट, कई इलाको में बर्फबारी से माइनस 10 डिग्री पहुंचा तापमान, UP-बिहार में बारिश ने ठंड बढ़ाईकेजरीवाल के PS के घर ED की रेड, मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े मामले में AAP के 10 ठिकानों पर पहुंची टीमब्लू साड़ी में श्वेता लगीं काफी स्टनिंग, एक्ट्रेस के कातिलाना अवतार पर 1 लाख से भी ज्यादा यूजर्स ने किया लाइकभारत में 718 Snow Leopard, अकेले लद्दाख में रहते हैं 477 हिम तेंदुए, WII की नई रिपोर्ट जारीजब नारद मुनि ने पूछा भगवान विष्णु से एकादशी का महत्व, आखिर कैसे मिला ब्राह्मण की पत्नी को बैकुंठ का ऐश्वर्याषटतिला एकादशी आज, जानिए शुभ मुहूर्त, पूजन विधि, व्रत के नियम और उपायइंदौर में नाबालिगों का खुनी खेल, 6 हमलावरो ने किया दो दोस्तों पर चाकू से हमला, आरोपी मौके से फरारशिवपुरी में 8 साल की बच्ची को ट्रक ने कुचला, पुलिस ने ट्रक जब्त किया, ड्राइवर फरार10वीं बोर्ड एग्जाम के पहले ही पेपर वायरल, टेलीग्राम चैनल पर 350 में दिया जा रहा प्रश्न पत्र, कई लोगों पर कार्यवाहीचिली के जंगलों में आग VIDEO, 112 लोगों की मौत सैकड़ों लापता, राष्ट्रपति ने आपातकाल घोषित किया

दतिया में दो गुटों में ताबतोड़ फायरिंग, पांच लोगो की मौत, 8 से ज्यादा घायल

MP LIVE Update
MP LIVE Update

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

दतिया जिले के रेड़ा गांव में बुधवार सुबह खेत से मवेशी भगाने को लेकर दो पक्ष आमने-सामने आ गए। जिसके बाद विवाद इतना बड़ा कि, दोनों गुटों में ताबतोड़ फायरिंग शुरू हुई जिसमें पांच लोगों के मारे जाने की खबर है और 8 से ज्यादा लोग घायल बताए जा रहे हैं।

घायल ज्ञान सिंह पाल ने बताया कि, मवेशियों को भगाने को लेकर दांगी समाज से विवाद हुआ था, जिसके बाद गोलीबारी होने लगी। मुझे पैर में गोली लगी है। कुछ देर बाद मैं बेहोश हो गया। वहीँ, घटना के बाद पुलिस और बड़ौनी SDOP विनायक शुक्ला अस्पताल पहुंचे हैं और मामले की जांच शुरू की।

पीथमपुर में केमिकल प्लांट में लगी आग –

उधर, पीथमपुर में एक केमिकल प्लांट में अचानक से आग लग गई। जिससे चार कर्मचारी झुलस गए और इनमें से एक की मौत हो गई। घायलों को महू के मध्यभारत अस्पताल में भर्ती कराया है।

जानकारी के मुताबिक, आग सुयोग फार्मा नामक कंपनी में लगी है, ये S सेक्टर एक थाना क्षेत्र के सेक्टर 1 में स्थित है। यह कंपनी दवाई बनाती है। प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि, आज सुबह करीब 9 बजे कंपनी से धुआं उठता दिखाई दिया। आसपास की कंपनी के कर्मचारी आग बुझाने और घायलों को निकालने पहुंचे। लेकिन प्लांट में सुरक्षा उपकरण नहीं थे। जिससे आग बुझाने में काफी देरी हुई और कर्मचारी झुलस गए। इस हादसे में मरने वाले कर्चारी की पेहचान कमलेश पिता पुरुषोत्तम तिवारी के रूप में हुई है।

MORE NEWS>>>राजस्थान में भीषण सड़क हादसा, बस और ट्रक की टक्कर में 12 लोगों की मौत, नेशनल हाईवे-21 पर बिखरे पड़े रहे शव

Leave a Comment