Search
Close this search box.

BREAKING NEWS

Golden Temple में लगे खालिस्तानी नारे.इंदौर में नोटा के नंबर 1 आने पर कांग्रेस ने केक काटकर मनाया जश्न .सलमान खान पर हमले की नाकाम साजिश.कीर्तन कर पहुंचे वोट डालने.सेना के जवानों ने डाला वोट.दिल्ली में पानी की भारी किल्लत के चलते लोग बूंद-बूंद पानी के लिए तरस रहे हैं।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में 45 घंटे की ध्यान साधना शुरू की है।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि कांग्रेस पार्टी के अंदर औरंगजेब की आत्मा घुस चुकी है।‘ऑल आइज़ ऑन रफ़ा’: सोशल मीडिया पर ट्रेंडिंग का असली कारण!हार्दिक पांड्या और नताशा के तलाक की खबरें तेजी से आ रही हैं. एक रिपोर्ट के मुताबिक नताशा को पांड्या की 70 प्रतिशत प्रॉपर्टी मिलेगी.

भारत में 718 Snow Leopard, अकेले लद्दाख में रहते हैं 477 हिम तेंदुए, WII की नई रिपोर्ट जारी

Snow Leopard 
Snow Leopard 

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री भूपेन्द्र यादव ने राष्ट्रीय वन्यजीव बोर्ड की बैठक में भारत में हिम तेंदुओं (Snow Leopard) पर एक रिपोर्ट जारी की। भारत में हिम तेंदुए की आबादी का आकलन पहली बार किया जा रहा है और इसके मुताबिक, “भारत में 718 हिम तेंदुए हैं।”

Snow Leopard 
Snow Leopard

भारतीय वन्यजीव संस्थान (WII) हिम तेंदुए की आबादी का आकलन करने वाली मुख्य संस्था है। सभी हिम तेंदुआ रेंज वाले राज्यों और दो संरक्षण भागीदारों- नेचर कंजर्वेशन फाउंडेशन, मैसूर और डब्ल्यूडब्ल्यूएफ-इंडिया के सहयोग से आबादी की गणना की गई। ये 9,800 से 15 हजार फीट की ऊंचाई पर पाए जाते हैं।

Snow Leopard 
Snow Leopard

केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख तथा जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, सिक्किम और अरुणाचल प्रदेश जैसे राज्यों सहित ट्रांस-हिमालयी इलाके में लगभग 1,20,000 किलोमीटर क्षेत्र में तेंदुओं की गिनती की गई। यह गिनती 2019 से 2023 के बीच 2 चरणों में पूरी की गई है।

Snow Leopard 
Snow Leopard

पहले चरण में हिम तेंदुए के हैबिटैट का मूल्यांकन किया गया और उनके निवास स्थान पर सहवास का विश्लेषण किया गया। वहीँ, दूसरे चरण में, प्रत्येक चिन्हित स्तरीकृत क्षेत्र में कैमरा ट्रैप का इस्तेमाल करके हिम तेंदुओं की बहुतायत का अनुमान लगाया गया।

Snow Leopard 
Snow Leopard

इनको रिकॉर्ड करने के लिए 13,450 km का सर्वेक्षण किया गया। 1.80 लाख ट्रैप रातों के लिए 1,971 स्थानों पर कैमरा ट्रैप लगाए गए। साथ ही हिम तेंदुए का निवास 93,392 वर्ग km क्षेत्र है। इनकी अनुमानित उपस्थिति 100,841 वर्ग km क्षेत्र में पाई गई है।

Snow Leopard 
Snow Leopard

कुल 241 अद्वितीय हिम तेंदुओं की तस्वीरें खींची गईं। डेटा विश्लेषण के आधार पर, विभिन्न राज्यों में इनकी अनुमानित संख्या इस प्रकार है – “लद्दाख (477), उत्तराखंड (124), हिमाचल प्रदेश (51), अरुणाचल प्रदेश (36), सिक्किम (21), और जम्मू तथा कश्मीर (9)”

Snow Leopard 
Snow Leopard

फ़िलहाल, हिम तेंदुओं की प्रजाति खतरे में है। इसलिए कभी भी इनका व्यापक राष्ट्रव्यापी मूल्यांकन नहीं किया गया। इनके रेंज, संख्या आदि की जानकारी सही और सटीक नहीं थी। 2016 से पहले, इनके पूरे रेंज का एक तिहाई (लगभग 100,347 वर्ग km) क्षेत्र पर किसी ने ध्यान नहीं दिया और लद्दाख, जम्मू एवं कश्मीर, उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश जैसे इलाकों में घटकर केवल 5 प्रतिशत रह गया था।

Snow Leopard 
Snow Leopard

हाल के स्थिति सर्वेक्षणों में 2016 में 56 प्रतिशत की तुलना में 80 प्रतिशत रेंज (लगभग 79,745 वर्ग किलोमीटर) को लेकर प्रारंभिक जानकारी मिलती है। हिम तेंदुए की संख्या पर ठोस जानकारी इकट्ठा करने के लिए, वैज्ञानिकों ने कैमरे के एक बड़े नेटवर्क का उपयोग करके हिम तेंदुओं के आवासों का सर्वेक्षण किया।

Snow Leopard 
Snow Leopard

इस स्थिति रिपोर्ट में बताया गया है कि, “पर्यावरण, वन तथा जलवायु परिवर्तन मंत्रालय के तहत WII में एक समर्पित हिम तेंदुआ प्रकोष्ठ स्थापित करने का प्रस्ताव है। इसका मुख्य उद्देश्य हिम तेंदुओं की दीर्घकालिक आबादी पर निगरानी करना होगा। ये नियमित मूल्यांकन चुनौतियों की पहचान करने, खतरों से निपटने और प्रभावी संरक्षण रणनीतियों को तैयार करने के लिए मूल्यवान अंतर्दृष्टि प्रदान करेंगे।

Snow Leopard 
Snow Leopard

MORE NEWS>>>हिमालय पर क्यों चल रहा है स्नो लेपर्ड प्रोजेक्ट, क्या है इसका मकसद, 2009 में हुई इसकी शुरुआत

Leave a Comment